• Post category:Quotes

Hi, Enjoy My Favorite Adhyatmik Guru’s Thought.

भारतीय संस्कृति दुनिया की सबसे प्राचीनतम संस्कृति में से एक है। भारत मैं शिक्षा व्यवस्था गुरुकुल परंपरा की थी जिसमें विद्यार्थी गुरुकुल मैं जा कर आध्यात्मिक शिक्षा प्राप्त करते थे और जिससे आज भी धर्मगुरुओ का स्थान सर्वोच्च रहा है। आज भी भारत के लोगों में भौतिकतावाद कम है, और आध्यात्मिक रुचि ज्यादा है। हम सबके जीवन में इन महान धर्म गुरुओं के विचारों का प्रभाव बहुत गहरा होता हे, जो हमारे जीवन को एक उच्च स्तर पर ले जाता है।

भारत मैं भिन्न-भिन्न समय पर बहुत से धर्मगुरु हुए और समग्र विश्वमैं अपने ज्ञान का प्रकाश फैलाया है। इसीलिए भारत को विश्वगुरु कहिए तो अतिरेक नहीं है। ये सब धर्मगुरु एक दूसरेसे अनूठे और अदित्य थे जिसमें एक दूसरे के साथ तुलना करना योग्य नहीं। हम यहां सिर्फ चुने हुए धर्म गुरुओं के बारे में बात करेंगे जो हाल ही में अपने ज्ञान का लाभ देते हैं। हमारी पसंदगी क्रमरहित(Random) है जो इस सूची में होना, ना होना या तो क्रम में ऊपर नीचे होना यह एक संजोग है, एक दूसरे की तुलना नहीं है।

आइए हम यहां कुछ पसंदीदा गुरु के विचारों को साझा करते है, जो निश्चि रूप से आपके जीवन मैं भिन्न-भिन्न समय पर प्रेरित करेगा।

1 Jaggi Vasudev (Sadhguru)

श्री जग्गी वासुदेवजी को दुनिया भर मैं सद्गुरु के उपनाम से जाने जाते है। श्री जग्गी वासुदेवजी ईशा फाउंडेशन के स्थापक है। यह संस्था अध्यात्मिक ज्ञान और पर्यावरण के संदर्भ काम करती है। श्री जग्गी वासुदेवजी को इन सामाजिक सेवाओं के क्षेत्र में पद्मा विभूषण से नवाजा गया हैं।

Sadhguru-Jaggi Vasudev

प्रेम और आनंद हमारे जीवन मैं बहुत ही महत्वपूर्ण है, जिसे हमें अवश्य अनुभव करना ही चाहिए।

2 Baba Ramdev

बाबा रामदेव भारत के प्रसिद्ध योग गुरु मैं से एक है।जिन्होंने प्राणायाम, योग अभ्यास और आयुर्वेदा के क्षेत्र में अपना योगदान दिया है। बाबा रामदेवजी ने पतंजलि आयुर्वेद, पतंजलि योगपीठ और भारत स्वाभिमान ट्रस्ट की स्थापना की है। जिसका मुख्य हेतु आयुर्वेदिक और स्वदेशी चीजों को बढ़ावा देना है।

Baba Ramdev

बाबा रामदेवजी ने टीवी चैनलो के माध्यम से लोगों को योगाभ्यास करवाते है और अपने स्वास्थ्य के प्रति जागृत करते है। वे युवाओं मैं स्वस्थ और सशक्त भारत को देखते है।

3 BK Shivani

शिवानी वर्मा जो ब्रह्माकुमारी विश्व आध्यात्मिक विद्यापीठ के एक शिक्षिका है। जिन्हें भारत सरकार ने नारी शक्ति पुरस्कार से सम्मानित किया है। बहन शिवानी ने समग्र विश्व में आध्यात्मिक ज्ञान का लाभ दे रही है।

BK Shivani

हमारे जीवन में छोटी-बड़ी समस्या तो आती रहती है, मगर हम उस पर क्या प्रतिक्रिया (React) देते हैं वे बहुत महत्वपूर्ण है।

4 Sri Sri Ravi Shankar

रविशंकर जी को श्री श्री या गुरुदेव पद्वी से सम्मानित किया जाता है। जिन्होंने आर्ट ऑफ लिविंग फाउंडेशन की स्थापना की है। श्री श्री रविशंकर आध्यात्मिक नेता है जिसे भारत सरकार ने पद्म विभूषण से सम्मानित किया है।

Sri Sri Ravi Shankar

किसी भी कार्य को शुरू करने से पहले हम उस कार्य के हर पहलू से वाकिफ होने चाहिए। शारीरिक और मानसिक तैयार होने चाहिए।

5 Didi Maa Ritambhara

दीदी मां ऋतंभरा भारत के एक राष्ट्रवादी साध्वी है जो दुर्गा वाहिनी की संस्थापक अध्यक्ष है। दीदी मां राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (RSS) की महिला समिति में सक्रिय है।

Didi Maa Ritambhara

आप चाहे जो भी परिस्थिति मैं जी रहे हो फिर भी कभी लघुताग्रंथि मैं नहीं आना चाहिए। अगर तुम खुद को दूसरों से कम आंकते हो तो अपना आत्मविश्वास खो देते है।

6 Gyanvatsal Swami

ज्ञानवत्सल स्वामी, श्री स्वामीनारायण संप्रदाय (बोचासनवासी अक्षर पुरुषोत्तम संस्था BAPS) के संत है जो एक लोकप्रिय आध्यात्मिक नेता और शक्तिशाली प्रेरक वक्ता हैं।

अगर आप किसी भी क्षेत्र में कार्य की शुरुआत करने जा रहे हो तब हर पहलू के बारे में विचार कर लेना चाहिए। फिर उस पर कार्य करना चाहिए।

5 Gaur Gopal Das

गौर गोपाल दास, भारत मै जीवन शैली को बेहतर बनाने और आध्यात्मिक जीवन के संदर्भ में कार्य करते है। जो इंटरनेशनल सोसाइटी फॉर कृष्णा कॉन्शसनेस (ISKCON) संस्था में कार्यरत है।

Gaur Gopal Das

हम सब जीवन को सीखते-सीखते हुए जीते हैं, तो गलती होना स्वाभाविक है। मगर इस गलती को केसे सुधारा जाई उस पर काम करना चाहीए।

आपके पसंदीदा गुरु कौन है, हमें टिप्पणी पेटी(Comment box) मैं जरूर बताएं। यदि यह विचारों आपको पसंद आऐ हो तो अपने दोस्तों को जरूर भेजें।

Hardev

Hi, I am Hardev! If you are a fan of knowledge and wisdom then we are equally interested. I love entrepreneurship and content writing so much, I would love to serve you something new. So stay connected with me and enjoy it.

Leave a Reply